रतननगर में पेयजल किल्लत, राठोड़ धरने पर बैठे विभाग के चीफ इंजीनियर ने एसई से मांगी रिपोर्ट

करीब एक घंटे के धरने के बाद एक्सईएन के 7 दिन में समस्या समाधान के आश्वासन पर माने

रतननगर में पेयजल किल्लत, राठोड़ धरने पर बैठे विभाण के चीफ इंजीनियर ने एसई से मांगी रिपोर्ट

चूरू | रतननगर के 7-8 बाड़ों में गर्मी में पानी की किल्लत एवं आपणी योजना के मीठे पानी की कम सप्लाई के विरोध में उप नेता प्रतिपक्ष ने बुधवार को पानी की टंकी के पास एक घंटे धरना दिया। रतननगर में राठौड़ के धरने पर बैठने की सूचना के बाद विभाग के अधिकारियों में हड़कंप मच गया। राठौड़ ने समस्या को लेकर मौके पर ही मोबाइल से चीफ इंजीनियर से बात की। कुछ देर में एक्सईएन मौके आओ पर पहुंचे तथा समस्या का 7 दिन में समाधान का आश्वासन दिया।

उप नेता प्रतिपक्ष राठौड़ का कहना है कि 25 हजार की आबादी वाले रतननगर कस्बे में 1.75 करोड़ की लागत से मीठे के पानी की सप्लाई के लिए जलाशय का निर्माण करवाया गया, मगर विभाग के अधिकारी ही यहां नहीं बैठते। एईएन चूरू बैठते हैं, जेईएन यहां आते नहीं है। घरों में 48 से 72 घंटे में सप्लाई हो रही है। जगह-जगह लीकेज है। वार्ड 1, 2, 6, 9, 2, 4 व 45 में भयंकर पानी की किल्लत है। लोग खारा पानी पीने को मजबूर है।

चूरू खंड में 40 एमएलडी पानी की जरूरत, मिल रहा 15.2 एमएलडी

एक्सईएन रामकुमार झाझड़िया का कहना है कि आपणी योजना के मीठे पानी की पीछे से कम सप्लाई हो रही है। चूरू विधानसभा को रोज 40 ‘एमएलडी पानी की जरूरत है, जबकि 5.2 एमएलडी पानी मिल रहा है। इसी प्रकार रतननगर को 500 किलोलीटर पानी चाहिए, जबकि 200 किलोलीटर पानी ही मिल रहा है। उन्होंने बताया कि कस्बे में पानी की किल्लत नहीं है। केबल आपणी योजना का पानी कम मिल रहा है। अन्य समस्या का समाधान कर दिया जाएगा।

चीफ इंजीनियर ने एसई से मांगी रिपोर्ट : जलदाय विभाग के चीफ इंजीनियर ने उप नेता प्रतिपक्ष राठौड़ की शिकायत पर एसई रणजीतसिंह ख्यालिया ने तथ्यात्मक रिपोर्ट तलब की। रिपोर्ट में बताया कि रतननगर में 500 केएल (किलोलीटर) प्रतिदिन पानी की
डिमांड है, जबकि सप्लाई 200 केएल मीठे पानी की दी जा रही है। हालांकि कस्बे के सभी 119 नलकूप चालू है, मगर जांच में तीन लीकेज की पुष्टि हुई. जिसे ठीक करवाया जा रहा है। जेईएन के नहीं बैठने के संबंध में कहा गया कि यहां पहले से इस पद अधिकारी चूरू खंड में 5 कम है। वर्तमान में केवल 4 ही कार्यरत है। जेईएन मीनाक्षी का ‘पदस्थापन चूरू में कर रखा है।

ज्ञापन देने जए लोगों के खिलाफ धारा 144 के उल्लंघन का मामला दर्ज

चूरू | रतननगर थाने में हर एसडीएम कार्यालय से प्राप्त मेल के आधार पर 20-25 लोगों के खिलाफ धारा 144 का उल्लंघन करने का मामला दर्ज हुआ। एसएचओ लूणकरणसिंह के अनुसार एसडीएम कार्यालय से प्राप्त मेल में लिखा गया कि कस्बे में बुधवार को नहर के मीठे पानी की सप्लाई की मांग को लेकर 20-25 लोगों ने ज्ञापन दिया। इस समय कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर धारा 144 लगाई हुई है। रिपोर्ट के आधार पर धारा 144 का डल्लंघन करने का मामला दर्ज हुआ।

सिद्धमुख में भी पेयजल संकट

सिद्धमुख | कस्बे में इन दिनों आपणी योजना की पेयजल व्यवस्था गड़बड़ाने के कारण लोगों को पेयजल समस्या का सामना करना पड़ रहा है। रात के अंधेरे में रोजमर्रा की जरूरत के लिए पानी की व्यवस्था करनी पड़ रही है। गांव के राकेश, आशीष आदि ने बताया कि गर्मी के मौसम में कस्बे में आपणी योजना की पेयजल सप्लाई देर शाम को दी जाती है और लोगों के घरों में रात तक पानी पहुंचता है। इससे लोगों को अंधेरे में पानी भरना पड़ता है। शिकायत के बावजूद कोई सुधार नहीं हो रहा है।

Leave a reply